Small Business

Solutions

सॉफ्टवेयर


उपभोक्ता (software मेरे अनुसार चले, में सॉफ्टवेयर के अनुसार नहीं !) वैसे तो सॉफ्टवेयर शब्द सुनने में तो बड़ा आम लगता हे परन्तु एक आम इंसान इसको उपयोग में नहीं ले पाता इसका कारण है सॉफ्टवेयर क्षेत्र में स्त्रोतो, जानकारी व जागरूकता की कमी, उम्र एवं हिचकिचाहट है । आज के तकनीकी युग में ऑफिस / संस्थान / दुकान को कम्पूटराइज करने कि मुख्य आवश्यकता हे। आज बड़े बड़े संस्थान सॉफ्टवेयर का प्रयोग कर रहे है जिसके द्वारा वे कम समय में अधिक से अधिक कार्य कर स्वयम को व अपने उपभोक्ता को पूर्ण रूप से संतुष्ट कर रहे है। आज कई प्रकार के सॉफ्टवेयर हमें मार्केट में मिलते है परन्तु उनसभी को चलाने के लिये हमे उनके अनुसार चलना पड़ता हे वे हमारे अनुसार नहीं चलते। ....... क्यों …? हेलियोस दि आईटी एम्पायर आपकी इन्ही समस्यो से परे हट करके स्वयं के लाभ के लिए ही नहीं अपितु सॉफ्टवेयर को आपके अनुसार / उपयोग / गणित / तरीके के अनुसार ही सॉफ्टवेयर का निर्माण करते है। हेलियोस दि आईटी एम्पायर का सपना यही है कि सॉफ्टवेयर आपके अनुसार चले आपको सॉफ्टवेयर कि अनुसार नहीं। हेलियोस वही प्रदान करेगा जिसकी आपको आवश्यकता है। ... आज के युग में दो प्रकार के सॉफ्टवेयर उपोयग में प्रचलित हे एक ऑनलाइन और दूसरा ऑफलाइन यह आप पर निर्भर करता हे की आप किस और जाना कहते हे... या अधिक जानकारी हेतु संपर्क करे। .. 9828425151.... आप प्रतीक्षा न करे ! शीघ्रः संपर्क करे !

वेबसाइट


हेलिओस ! सॉफ्टवेयर में ही नहीं वेबसाइट में भी आपके साथ हे| अपनी संस्थान /व्यापर विशेष् के लिए यदी आप अंतर्राष्ट्रीय मार्केट चाहते है तो उसके लिए उपयुक्त तरीका वेबसाइट ही है | वेबसाइट के द्वारा आप अपने मत, बिज़नस को किसी भी समय कही भी पंहुचा सकते है वेबसाइट के द्वारा आपको अंतर्राष्ट्रीय मार्केट आसानी से प्राप्त हो जायेगा | आज Student ,Employee ,Businessmen सभी अपनी आम जरुरत के लिए इंटरनेट कि सहायता लेते हे | इसी प्रकार आप अपने व्यापर को बढ़ाने के लिए उचित मूल्य पर अपनी वेबसाइट बनवा सकते हे । यह भी तीन प्रकार की होती हे स्टेटिक डाइनिमिक व इ कॉमर्स अधिक जानकारी हेतु संपर्क करे | इसके लिए हम निम्न सुविधा प्रदान करते है:-
1. वेबसाइट का कंटेंट (विवरण ) लिखते है ।
2. आपकी रूचि और व्यापार के अनुसार वेबसाइट बनाते है ।
3. वेबसाइट अपडेट सुविधा एक वर्ष या (आप की इच्छानुसार अधिक वर्ष) के लिए प्रदान करते है । इनके अतिरिक्त आपको आपकी सुविधानुसार कई प्रकार कि सुविधा भी उपलब्ध् करते है जो कि आपको हमारे प्रतिष्ठान से जानकारी प्राप्त करनी होगी । अधिक जानकारी हेतु संपर्क करे |

s

डिजिटल मार्केटिंग क्या है ?


• सभी लोग अचानक ऑनलाइन क्यों जा रहे हैं ?
• डिजिटल मार्केटिंग से क्या लाभ होता है ?
• डिजिटल मार्केटिंग आखिर किन अन्य विषयों से मिल कर बनी है ?
• डिजिटल मार्केटिंग किस प्रकार से विकसित हुई ?
• सर्च इंजन ऑप्टीमाईज़ेशन क्या होता है ?
• पे पर क्लिक मार्केटिंग का क्या अर्थ है ?
• सोशल मीडिया मार्केटिंग क्या होती है ?
• डिजिटल मार्केटिंग का मूल्यांकन कैसे किया जाता है ?
• डिजिटल मार्केटिंग क्या है ?
डिजिटल मार्केटिंग दो मुख्य शब्दों से मिल के बना है –
डिजिटल और मार्केटिंग | सबसे पहले हम इन शब्दों के अर्थ को समझते हैं –

डिजिटल क्या है ?
यहाँ पर डिजिटल का अभिप्राय इलेक्ट्रॉनिक और कंप्यूटर से है और मुख्य रूप से इन्टरनेट से है जो एक इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क है जिस नेटवर्क का हिस्सा दुनिया का हर वो व्यक्ति है जो किसी भी डिजिटल उपकरण के द्वारा इन्टरनेट का प्रयोग करता है |
मार्केटिंग क्या है ?
मार्केटिंग का शाब्दिक अर्थ है विपणन | किसी भी बिज़नस या सर्विस को सबसे पहले उसके उत्पादक ही जानते है उसके बाद वो लोग जानते हैं जो लोग उस उत्पाद से जुड़े हुए हैं और जानने वाले लोगों का दायरा काफी सीमित होता है | उपभोक्ताओं को जब तक उस उत्पाद या सर्विस के बारे में सूचना न मिले तब तक उन्हें पता भी नहीं चलेगा की ऐसी कोई सर्विस या उत्पाद बाज़ार में उपलब्ध है | नए या पहले से मौजूद उत्पादों या सर्विस की सूचना मौखिक और लिखित प्रारूप में लक्षित उपभोक्ताओं तक पहुचने की प्रक्रिया को मार्केटिंग कहते हैं | डिजिटल का अभिप्राय इन्टरनेट से है, मार्केटिंग का अर्थ है विपणन | अपने व्यवसाय एवं सेवओं को इन्टरनेट (ऑनलाइन) के माध्यम से अपने ग्राहकों के समक्ष प्रस्तुत करने की प्रक्रिया को डिजिटल मार्केटिंग कहते हैं | इस प्रक्रिया को कई खंडो में विभाजित किया जा सकता है :

१. अपने व्यवसाय एवं सेवाओं के सारांश को एक विज्ञापन में संजोना |
२. अपने विज्ञापन को अपनी वेबसाइट या किसी अन्य ऑनलाइन समुदाय, वर्गीकृत, इत्यादि वेबसाइट में प्रकाशित करना |
३. प्रकाशित विज्ञापन या लेख का लक्षित दर्शको / उपभोक्ताओ तक पहुचना
इन्टरनेट संभावित उपभोक्ताओं का भंडार है | इन्टरनेट मार्केटिंग के माध्यम से आपका विज्ञापन जितने अधिक से अधिक लोगों तक पहुचता है आपकी सफलता की प्रायिकता उतनी ही बढ़ती जाती है | सभी लोग अचानक ऑनलाइन क्यों जा रहे हैं ?
• नए उत्पादों, सेवाओं एवं स्थानों की जानकारी हेतु
• अपने प्रश्नों के उत्तर हेतु
• किसी प्रकार की सहायता हेतु
• किसी व्यक्ति विशेष की जानकारी हेतु
• व्यवसाय के नए अवसरों की तलाश में
• ऑनलाइन व्यापर करने हेतु
• अपनी संस्था के लिए कर्मचारियों को नियुक्त करने के लिए
• ऑनलाइन बिल का भुगतान करने के लिए
इसके इलावा अन्य कई कारण है जिनकी वजह से लोग अपने अधिकतर कार्य ऑनलाइन ही कर लेते है | ऐसा करने से उनके समय एवं पैसे , दोनों की बचत होती है | छोटे व्यवसायों के लिए लोगो तक पहुचना आसन हो जाता है | जिस प्रकार लोग अन्य वेबसाइट तक पहुचते है उसी प्रकार आपकी वेबसाइट तक भी पहुच सकते है |
डिजिटल मार्केटिंग से क्या लाभ होता है ?
पारंपरिक मार्केटिंग की तुलना में डिजिटल मार्केटिंग निम्नलिखत कारणों से उपयोगी है :
• किफायती होता है
• इसका विश्लेषण किया जा सकता है
• नियंत्रण उपभोक्ताओं के हाथ में रहता है
• अधिक सुविधाजनक है
• अधिक संतुष्टि प्रदान करता है
• ब्रांड की निष्ठा को बढ़ाता है
• बिक्री की प्रक्रिया को तेज़ करता है
• बिक्री के समस्त खर्चो को कम करता है
• ब्रांड के शशक्तिकरण में सहायक होता है
• लक्षित परिणाम मिलते है<br>
डिजिटल मार्केटिंग किन मूल तत्वों से मिले के बना है ?
निम्नलिखित विषयों को डिजिटल मार्केटिंग की आधारशिला माना गया है :
• वेबसाइट के पृष्टों के साथ उपभोक्ताओं का अनुभव
• एस . ई. ओ ( search engine optimizaton )
• पे पर क्लिक विज्ञापन
• व्यवसाय के लिए सोशल मीडिया का प्रबंधन
• लेखों के द्वारा उपभोक्ताओं तक अपने व्यवसाय एवं अपनी सेवाओं की जानकारी पहुचना
• इन्टरनेट पे बैनर द्वारा विज्ञापन करना
• अपने ब्रांड की छवि का इन्टरनेट पे प्रचार, प्रसार एवं प्रबंधन
डिजिटल मार्केटिंग किस प्रकार से विकसित हुई ?
डिजिटल मार्केटिंग की आवश्यकता 1999-2000 में हुई जब कई लोगो की वेबसाइट ऑनलाइन हो चुकी थी | लोगों द्वारा बनायी गयी वेबसाइटस को उनके निर्माता या उनके संपर्क में रहने वाले लोग ही जानते थे | किसी भी वेबसाइट के मालिक के लिए उसकी वेबसाइट तब तक किसी काम की नहीं जबतक लक्षित ग्राहकों तक वो वेबसाइट नहीं पहुच जाती है | अपनी वेबसाइट तो अन्य लोगों तक पहुचने के लिए लोगों ने :
• ऑनलाइन विज्ञापन का सहारा लिया और
• अन्य प्रसिद्ध वेबसाइट पर अपनी वेबसाइट को लिंक किया
• या किसी से चैट करते वक़्त अपनी वेबसाइट को प्रमोट किया
• ईमेल के माध्यम से लोगों ने अपनी वेबसाइट का लिंक और लोगों को भेजना शुरू कर दिया यह डिजिटल मार्केटिंग की शुरुआत थी |


डिजिटल मार्केटिंग के घटक आज कल के ecommerce business trend में ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग का क्रेज आप चारो तरफ देख सकते है Digital Marketing strategies बहुत ही काम आज़माया जा रहा है और रोज़ ऑनलाइन मार्केटिंग के लिए नए-नए रास्ते खुल रहे है! जैसे :-
• Social Media Marketing
• Content Marketing
• Search Engine Optimization (SEO)
• Search Engine Marketing (SEM)
• Pay-Per-Click Advertising (PPC)
• Affiliate Marketing
• Email Marketing
• Google analytics se Marketing
• Radio advertising
• Television advertising
• Video marketing
• Mobile Marketing
• Inbound Marketing
• SMS (Promotional & Transactional)

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन SEO


सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन SEO क्या होता है ?
सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन SEO क्या होता है यह जानने से पहले आपको इसके प्रयोग होने वाले शब्दों को समझना चाहिए :
सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन या SEO प्रायः तीन शब्दों से मिल के बना है |
सर्च का अर्थ है – किसी व्यक्ति, वस्तु, जगह या अन्य जानकारी को खोजना
इंजन का अर्थ है – यूजर द्वारा एन्टर की जाने वाली जानकारी को डेटाबेस में पोस्ट करने और उस जानकारी के अनुसार उत्तर को यूजर को दिखने की तकनीक | सबसे अधिक प्रयोग होने वाले सर्च इंजन हैं :
• गूगल *बिंग *याहू
ऑप्टिमाइजेशन का अर्थ है – अपनी वेबसाइट की कुशलता को इस प्रकार से बढ़ाना की वो यूजर के सवाल के अनुसार सबसे सटीक उत्तर दे सके |
यूजर द्वारा पूछे जाने वाले सवालों में आने वाले प्रमुख शब्दों को KEYWORDs या मुख्य शब्द कहा जाता है | “डिजिटल मार्केटिंग क्या है” में कीवर्ड है “डिजिटल मार्केटिंग” और इस पूरे वाक्य को KEYPHRASE कहते हैं |
यदि आप किसी व्यवसाय के माध्यम से किसी को सेवा प्रदान करते हैं तो उस सेवा के लिए आपको keywords भी सोचने पड़ते हैं | ये keyword आपके व्यवसाय से सम्बंधित ही होते हैं | हमें रिसर्च करनी पड़ती है की इसी व्यवसाय से जुडी कौन सी सूचना गूगल, बिंग, याहू इत्यादि सर्च इंजन पर यूजर खोज रहे हैं और उस सूचना को ढूँढने के लिए वो कौन से keyword का प्रयोग कर रहे है |
उन KEYWORDS को अपने वेब पेज में हम TITLE टैग के अन्दर लिखते हैं | अपने वेब पेज के META DESCRIPTION टैग में भी उस कीवर्ड को लिखना चाहिए |
आपके वेब पेज में HEADING टैग भी प्रयोग होते हैं जिसमे से सबसे बड़ी heading में सबसे प्रमुख कीवर्ड का प्रयोग कोना चाहिए और यदि आप इमेज का प्रयोग कर रहे हैं तो इमेज टैग के एट्रिब्यूट में भी उस कीवर्ड का प्रयोग अनिवार्य है |
इस प्रक्रिया को सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कहते हैं |
सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन से वेबसाइट पर आने वाले विजिटर की संख्या बढ़ जाती है और व्यवसाय को लाभ पहुचता है |

Keyword


आपकी website mobile friendly होनी चाहिए अगर आपकी साईट मोबाइल फ्रेंडली नही है तो आपकी साईट रैंक नही करेगी और गूगल में गलत इम्पैक्ट जायेगा! ... क्या अभी भी एसएमएस महत्वपूर्ण है? इसका जवाब है हां …. स्मार्टफोन ने न केवल लोगों के जीने का तरीका बदल है, बल्कि उनके कम्युनिकेशन को भी बदल दिया है| इसमें कोई शक नहीं है आज की जनरेशन वॉट्सऐप जैसे कई फ्री में उपलब्ध कम्युनिकेशन ऐप का है और हर कोई इन पर उनकी भावना को शयर करते है| आखिर आपका स्मार्टफोन वॉइस, एसएमएस और ईमेल इन तीनों सोशल नेटवर्क के साथ आता है और हर एक का उद्देश्य अलग है| लेकिन यह भी सच हैं आज भी एसएमएस कुछ की मिनट में हजारों लोगों तक अनाउंसमेंट को पहुँचाने के लिए एक मात्र तरीका है| एसएमएस का उपयोग करने का सबसे बड़ा लाभ यह है की आप आसानी से बिना इंटरनेट कनेक्शन के, अपनी पसंद के व्यक्ति से संपर्क कर सकते हैं। मानो या न मानो, आज भी इस दुनिया में कई ऐसे लोग है जिनमे पास स्मार्टफोन नहीं है, और इसलिए वे इन फ्री ऐप्स के जरिए मैसेज भेज और प्राप्त नहीं सकते| एसएमएस यह सुनिश्चित करता है कि जिनकें पास स्मार्टफोन नही है उनसे भी संपर्क किया जा सके| एसएमएस के उद्देश्य कई है जैसे किसी को शुभकामनाएँ देना, अनाउंसमेंट, इमरजेंसी कम्युनिकेशन, सर्विस डिलीवरी, मार्केटिंग, एडवरटाइजिंग आदि|

+91-9828425151
+91-9214433451
Get the Quote

Client Testimonial

  • Udai Kitchen Equiptmenr
  • wowslider.com
Udai Kitchen Equiptmenr1 2 3 4 5 6 7 8 9 10 11
jquery slider by WOWSlider.com v8.7